bike stunts and girlfriend

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

मेरा नाम प्रेम (बदला हुआ नाम) मै होशियारपुर का रहने वाला हुँ मुझे Bike चलाने का शुरू से ही बहुत शोक था। मै और मेरा Group रोज तेज Bike चलाते और रोज सडको पर नए नए Stunts दिखाते College मे सब को पता था कि मै Bike पर हर तरह के Stunts कर सकता हुँ। मै आपको दो बाते बताता हुँ। एक अच्छी और एक बुरी अच्छी बात यह थी मेरी Life मे एक लडकी आयी रीया (बदला हुआ नाम) वह भी Bike पर Stunts की बजह से और बुरी बात यह है कि वह मुझसे दुर गई शायद वो भी मेरी इसी Bike पर Stunts की बज़ह से। अब मे आपको पुरी बात बताता हुँ। ज़ब मै और मेरे दोस्त सडक पर जाते थे तो मै रोज सबसे आगे होता था और रास्ते मे रीया का घर था जहा वो रोज मुझे छत से देखती थी एक बार मेरा ध्यान उस पर गया तो मैने रोज Notice किया यह लडकी तो शायद छत पर मेरा ही इतजार करती होगी। एक दिन जाते जाते मैने उसे इशारा कर दिया तो उसने भी Smile कर दी बस मेरा ध्यान हट गया और मै आगे टकरा कर गिर गया पर अभी भी मेरा ध्यान उस पर था जो मुझे देख कर हँस रही थी और उसे आपना मुँह बनाया और माथे पर हाथ रखा और फिर दी। अगले दिन उसने मुझे College मे रोका और कहा ध्यान Bike पर देते तो Accident न होता मुझे बहुत अच्छी लगी मैं सारी रात न सो सका और सारी रात उसका चेहरा मेरे साहमने आ रहा था अगले दिन मैने सोच लिया था कि मै उसकी और नही देखुगा पर क़्या करू यार Control नही होता और रोज की तरह मैं उसकी और देखने लगा उसने भी फिर Smile दी और मुझे बहुत अच्छा लगा।इस तरह हमारा प्यार का सिलसिला शुरू हो गया पर अभी तक हमने एक दुसरे से बात भी नही की थी पर इशारो की Language तो आप भी ज़ानते ही है। अभी हमारे पास एक दुसरे का फोन न भी नही था। फिर एक दिन वह फिर मुझे College मे मिली जहां मैने उससे उसका फोन नं मांगा तो उसने इनकार कर दिया और कहा मेरे पापा बहुत Stick है उनको पता लग गया तो मुझे और तुझे दोनो को नही छोडेगे। मैंने कहा “प्यार क़िया तो डरना क़्या” वो फिर हँस के चली गई। बस उसकी हंसी मुझे पागल किए जा रहा थी मुझे हर वक़्त उससे मिलने या बात करने या सिफँ देखने का इतजार रहता मैं कई घंटे सडक पर या College के गेट पर उसका इतजार करता रहता। एक बार वो Canteen में अपनी सहेलियो के साथ बैठी हुई थी। तो मैने उसे दुर से इशारा किया उसने भी मुझे Smile दी जो उसकी सहेली ने देख ली बस फिर क़्या था उसकी सहेली ने उसे समझाया यह लडका देखने में अच्छा लग़ता है तू बात तो कर ले। फिर उसने डरते डरते अपना Phone Number मुझे दिया। और हमारा बातो का सिलसिला शुरू हो गया। वो मुझे प्यार से “Tube light” कहती थी। कहती थी तुम “Tube light” हो जो बात को कुछ समय के बाद समझते हो। मै उसे प्यार से Sweet Heart कहता था वो बहुत खुश होती थी मेरी इन बातो से एक बार मै रीया और उसकी सहेली एक Restaurant मे मिले।जहा हमने खुब बाते की मैने उसकी सहेली से Request की मै रीया से सिफँ पांच मिंट अकेले मेे मिलना चाहता हुँ। मैने उस दिन रीया को कह दिया ‘I Love You’ तो वो हँस पडी फिर मैने पुछा Do You Love Me उसने हँस क़र क़हा “Tube light” फिर हम घर वापिस आ गए कुछ देर हमारा ऐसे मिलना जुलना चलता रहा यह सारा समय हमारा बहुत अच्छा चल रहा था। फिर एक दिन मैने उसे College से मेरी Bike पर चलने के लिए कहा पहले तो वो न करती रही। शायद वो बहुत ड़र रही थी इसलिए वो मेरे साथ नही चल रही थी। फिर मैने उसे मना ही लिया हम दोनो College से इकठठे निकले मेरी Bike पर लडकी मेरे साथ पहली बार बैठी थी। मेरे चेहरे पर अलग़ सी ही खुशी थी। कुछ दुर जाते ही किसी ने मेरी Bike का पिछा करना शुरू किया मुझे लग़ा शायद कोई लडका रीया को पीछे से तंग कर रहा है। मैने जल्दी से Bike रोकी फिर उस लडके ने भी मेरी Bike के साथ अपनी Bike लग़ा दी रीया बहुत डर गई थी उस लडके ने मुझे पुछा “कहा जा रहे हो बेटा” मैने उसे आगे से क़हा “बेटा तु है बाप हुँ मै तेरा” बस उसके आगे वो कुछ न बोला उसने मेरी बहुत पिटाई की मैने भी बहुत कोशिश की पर उसने तो बहुत मारा यारो मेरी टांग भी टुट गई इस चक्कर के बाद मुझे पता चला की यह तो ” साले साहब ” थे। यह मै अपनी Real Story Hospital से लिख रहा हुँ। अब लग़ता है क़ि शायद मै रीया से जल्दी नही मिल पाऊगा क्यो कि उसका फोन भी Switch Off आ रहा है। उसका अगला Part क्या होगा भगवान जाने। पर आप लोगो ने भी प्यार किया होगा आपको अपने प्यार क़ी कसम मेरे लिए भगवान से दुआ ज़रूर मागना अगर मै success रहा तो फिर अपनी पुरी Story आप लोगो को सुनाऊगा।