First Love of Life Love story – in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो, मेरा नाम Sonu है | ये कहानी Bikram और Priti की है 9th की Classes चालू हो चुकी थी | Priti Class की बहुत ही सुंदर लड़की थी और Bikram Sport में सबसे आगे था | Priti एक आमीर घर की लड़की थी मगर Sport में काफ़ी पीछे थी | School में बहुत सरे लड़के थे जो कि लडकियो के पीछे भागते थे | Bikram उनसे काफ़ी अलग था इसलिए उसकी Image सबके बीच बहुत अच्छी थी | ये सिलसला काफी देर तक चला | फिर School में Sports meet शुरू होने वाले थे | Bikram Sport में सबसे आगे था | तो Teacher ने उसे क्लास का नेता बना दिया और सभी Students को Training देने को कहा | फिर एक दिन Priti Volley Ball खेल रही थी पर उसका Ball Net से पार नही हो पा रहा था | इतने में Bikram आया और उसने देखा कि Priti का Ball Net से पार नही हो पा रहा तो वो Priti के पास आया उसने उसे Ball Net से पार करने के तरीके बताए | अगले दिन Priti का Volley Ball का मैच था और Priti ने वैसे ही खेला जैसे कि Bikram ने उसे बताया था लेकिन Priti वो मैच हार गयी | तो उसी कारन Priti उदास थी और वो क्लास में अकेली ही बैठी थी | उसी समय Bikram क्लास में आया और Priti से पूछा कि क्या बात है पर उसने उसे कहा कि कुछ नही | लेकिन Bikram को पता था कि मैच हारने कि कारन वो उदास है Bikram ने उसका होंसला बढ़ाया | उसने उसे फिर से खेलने का होंसला दिया | Priti का अगला मैच Kho-Kho का था और Priti के पास एक भी Ball नही आई और सभी उसपे हसने लगे | Bikram ने देखा कि Priti ठीक से नही खेल रही खेल रही है तो Bikram ने Priti को बुलाया और कहा कि कोई कुछ भी बोले तू सिर्फ Ball की तरफ ध्यान रखना फिर Priti ने ऐसे ही किया और वो मैच जीत गयी और फिर Priti को Bikram अच्छा लगने लगा | Bikram भी उसे पसंद करने लगा दुसरे दिन जब Meet का आखिरी दिन था तो Priti और Bikram दोनों आमने-सामने Carom-board खेलने लगे और वो उनका Final – Match था और Bikram जान बुझकर वो मैच हार गया और Priti को Match Winner बना दिया लेकिन Priti जानती थी कि वो जान बुझकर हारा है | Bikram वैसे ही उठकर चला गया और Priti भी उसके पीछे आई Priti ने कहा कि मुझे जिताने के लिए धन्यवाद | फिर वो दोनों घर के लिए निकल पड़े | रास्ते में दोनों बातें करते जा रहें थे कि उतने में Priti ने कहा कि Bikram तुम्हरी कोई Girl friend है और Bikram बोला कि नही अभी तो नही है फिर Bikram ने पूछा कि आपका को Boyfriend है तो Priti ने कहा कि हाँ है और Bikram ये सुनकर एक दम चुप हो गया और उसने पूछा कि कौन है तो Priti ने कहा कि वो तुम हो | ये सुनकर वो अंदर ही अंदर खुश हो रहा था फिर Bikram ने कहा कि एक बात बताओ और तभी Priti ने कहा कि हाँ पुछो और Bikram बोला कि तुम भी मुझे अच्छी लगती हो | ऐसे ही बातें करते-करते दोनों घर चले गये | फिर उनके Final पेपर आ गये थे | पढ़ाई में Weak था | Priti ने उसकी बहुत Help की | एक दिन Priti का परिवार कहीं बाहर गया हुआ था तो पेपर के चलते उसको घर पर ही रहना पड़ा | उसी शाम Bikram ने फ़ोन किया और Priti ने बोला कि आज शाम तुम मेरे घर पर आ जाओ और Bikram बोला कि ठीक है और Bikram उनके घर चला गया और पढ़ते वक्त Bikram की मम्मी का फ़ोन आया कि तेरे नाना की Death हो गयी है और हम सब वहां जा रहें हैं तो Bikram बोला कि ठीक है | पढ़ने के बाद जब Bikram घर जाने लगा तो Priti ने बोला कि आज तुम यहीं रुक जाओ हमें साथ रहने का इससे अच्छा मौका कभी नही मिलेगा Bikram ने बोला कि ठीक है और वहीं रुक गया | वो दोनों देर रात तक जागते रहें और जब दोनों सुबह उठे | अब पेपर भी खत्म हो गये थे और 1 महीने की छुटियां भी खत्म हो गयी थी | वो दोनों पास हो गये | 10th का पहला दिन था | Bikram और Priti भी आए थे | और अब उनके Parents को भी पता चल गया | उनके मां-बाप ने उन्हें बहुत डांटा और शायद Priti को घर से मार भी पड़ी थी | Priti को उसके मां-बाप ने पढ़ने जाने से भी हटा लिया और वहां से कहीं दूर ले गये | अभी वो कहा है कुछ पता नही ………