Mera Pehla aur Ek Tarfa Pyar ki Kahani love Story in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो, मेरा नाम Nitish है | मैं जब 1st year में पढ़ता था | जब मुझे Collage जाना बिलकुल भी पसंद नही था और मैं पढ़ाई मेनन ज्यादा Intelligent भी नही था | मेरे नंबर सिर्फ 55 से 60% के बीच ही थे | जब मुझे College में छुटी होती तो मैं बहुत खुश होता था | तो मैंने कैसे भी करके अपना 1st year पूरा किया तो अब छुटियां हुई तो जब फिर से College खुला तो मैं परेशान होने लगा कि फिर से वही बोरिंग जिंदगी लेकिन बड़ी मुश्किल से मुझे College जाना पड़ा | 2nd Year में दाखिल हुआ तो कुछ दिन बाद मेरे Juniors भी आ गये| College थोड़ा अच्छा लगने लगा | ऐसे ही कुछ दिन बीत गये | उसके बाद शायद भगवन को मुझपे तरस आ गया हो | एक दिन जब मैं College से घर जा रहा था तब मैंने किसी को देखा और फिर चला गया | लेकिन जब फिर से मैं पीछे मुड़कर देखा तो देखता ही रह गया | वो एक लड़की जो College की बैग पहनकर किसी का इंतज़ार कर रही थी | मेरे दोस्त ने मुझे हिलाया और बोला कि क्या कर रहा है तो तब मैं अपनी होश में आया और मैं अपने दोस्त से बोला कि ‘वो लड़की बहुत खुबसुरत है न’ तो उसने बताया कि वो लड़की इस College की Junior है और वो यह BBA कर रही है | उस दिन मुझे College में ज्यादा देर तक रहने को मन किया लेकिन घर के लिए भी देर हो रही थी इसलिए मैं ना चाहकर भी घर चला गया और अपने काम में लग गया | जब मैं सोने लगा तब उसकी याद आई | मैं आँखें बंद कर ली लेकिन नींद नही आ रही थी | सारी रात ऐसे ही गुजर गयी उसकी बाद पता नही कैसे नींद आई | जिंदगी में पहली बार किसी अनजान लड़की के बारे में इतना सोच रहा था | जब सुबह आँख खुली तो उसकी याद आई और पहला बार College जाने के लिए मन किया | मैं College के लिए उस दिन जल्दी ही चला गया और वहां जाकर उसका इंतजार करने लगा, वो बहुत ही खुबसुरत पल था और वो खुबसुरत समय आ गया वो लड़की College आई फिर मैं उसे देखने लगा | जब तक वो अपनी क्लास में नही गयी मैं उसे ही देखता रहा | बस हर वक्त उसे ही देखता रहता था | मैं उसे देखने में इतना खो गया कि उसका नाम भी भुल गया मुझे उसका नाम पूछने में डर लगता था कि कहीं उसका पता ना चल जाए | फिर मैंने उसका Nick name रख दिया और वो था Preet | जब मैं उसे College में देखता हूं तो मन को बहुत ख़ुशी मिलती है | मेरी ख़ुशी का ठिकाना नही था और मैं ये बात अपने दोस्तों से छुपाना चाहता था | लेकिन मैंने अपने Best Friend को बताया जो कि दुसरे College में पढ़ता था और वो ये सब सुनकर बहुत खुश हुआ | दुसरे दिन College में मैं उसे ज्यादा देर तक देखा तो ये बात मेरी क्लास के सभी लडकों को पता चल गयी और वो मुझे चिड़ाते थे | मैने उसका नाम भी पता कर लिया था | जब मुह्जे उसके नाम का Meaning Internet से मिला तो मुझे उससे फिर से प्यार हो गया | धीरे-धीरे मेरा इस पर प्यार बहुत ज्यादा होता गया | मेरा College जाने का मन भी बहुत करने लगा | सिर्फ उसे देखने केलिए ही College जाता था | फिर मैंने उसके घर का पता भी लगा लिया था | इसके लिए मुझे सिर्फ 1 घंटे का समय लगा | मैंने छुटी के समय उसके पीछे-पीछे जाकर पता लगा लिया था | फिर एक दिन मेरे दोस्त ने बोला कि उसे जाकर बोल दे कि तू उसे प्यार करता है मैं उसे बात करने से भी डरता था लेकिन अंदर ही अंदर बहुत खुश भी था ……….