Mere Sache Pyar ki Kahani Love story in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो, मेरा नाम Pihu है | मैं आपको अपने प्यार की कहानी बताने जा रही हूं | मेरी एक दोस्त और मैं कहीं घुमने जा रहें थे तो रास्ते में मेरी दोस्त का दोस्त मिल गया | उसका नाम Sajan था और उसके साथ उसका दोस्त Barjesh था | हम सब मिले और एक-दुसरे को देखा | कुछ दिन बीत गये लेकिन एक दिन उस Barjesh का फ़ोन आया और फिर Massage आने लगे | क्यूंकि मेरी दोस्त ने उसे मेरा Number दिया था
फिर वो ओर मैं बात करते थे | वो मेरी हर समय मदद करता था | उसने मुझे एक दिन फ़ोन किया और मिलने को बोला | वो Special date थी और मुझे कुछ पता नही था | हम मिले और कुछ बातें करने लगे | फिर उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और आँखों में ऑंखें डालकर मुझे Purpose किया और बोला कि मुझे प्यार करोगी और जिन्दगी भर मेरा साथ देगी…. मैं चुप हो गयी | मैंने Smile की और हाँ बोला | बस उस वक्त से हमारी Love Story शुरू हो गयी | समय बीतता गया और हम एक-दुसरे से प्यार करते रहे | हमें एक दुसरे के बगैर कुछ दिखता ही नही था | हमारी Love Story को 1 साल हो गया था |
लेकिन एक समय ऐसा आया कि हमारे प्यार को किसी की नज़र लग गयी | लोगों की वजह से इतनी गलतफ़हमी हो गयी थी कि जिस जो प्यार मुझे अपना Life Partner बनाना चाह रहा था उसने मुझे बुलाकर कहा कि तुमसे बहुत प्यार करता हूं लेकिन शादी नही कर पाउँगा | क्योंकि मेरी Family नही मानेगी | लेकिन मैं जानती थी कि बात ये नही है बात कुछ गलतफ़हमी की है जिस कारन ये सब कुछ बोला |फिर भी मैंने आंसुओं को रोक कर ये भी मान लिया क्यूंकि मैं उसे बहुत प्यार करती थी | फिर भी हम मिलते रहें और प्यार करते रहे | हम एक दुसरे को बहुत प्यार करते थे लेकिन Life Partner नही बन सकते थे | कुछ समय ऐसा आया की मेरा रिश्ता आया और मेरी Family बहुत खुश थी | मैं इस रिश्ते को मना नही कर पाई और मैंने हां बोला दिया | फिर मैंने उसे बताया और फिर हम दोनों बहुत रोये | हम दोनों चाह कर भी कुछ नही कर पाए मैं बहुत रोती थी उसके बिना नही रह सकती थी | उसके बिना मर जाउंगी | मेरी शादी का वक्त आया और मैं बहुत रोती रही उसे मिला चाहती थी | Please मिल लो नही तो मैं मर जाउंगी | फिर हम मिले और हम दोनों बहुत रोये | वो भी मुझसे बहुत प्यार करता था |
एक दिन आया, जिस दिन मेरी शादी थी | उस दिन मैंने उसे बहुत फ़ोन किये उसका फ़ोन बंद आ रहा था | बहुत रोई मैं और बहुत दिल दुख क्योंकि जिस दिन मेरी शादी थी उसी के दिन मेरे प्यार ने मुझे Purpose किया था | उसी दिन हमने प्यार का Promise किया था | मेरी शादी हो गयी | हमारा Contact खत्म हो गया | मैं शादी के बाद अपने घर आई और फ़ोन देखा और उसका Massage आया हुआ था ये देखकर मैं बहुत रोई | ये सोचकर कि वो मुझे नही भुला | मैंने फ़ोन किया और उसकी आवाज़ सुनकर बहुत रोई और पूछा कि मेरा फ़ोन क्यों नही उठाया और फन क्यों बंद था | उसने बोला कि अगर मैं फ़ोन बंद नही करता तो फ़ोन उठा लेता तो मैं खुद को नही रोक पाता |
मैं बहुत रोटी थी , पूछती रही कि आपने मुझसे शादी क्यों नही करी | हम दोनों बहुत प्यार करते थे लेकी मिल नही पाए | कुछ समय तक हमारा Contact रहा और एक दिन उसने मुझे मिलने को कहा | मैं मिलना भी चाहती थी लेकिन एक रिश्ता मुझे ये करने की इज़ाजत नही देता था | वो रिश्ता कि मैं एक इन्सान की पत्नी हूं वो मुझपर बहुत विश्वाश करते है | मेरे पति मेरे से बहुत प्यार करते थे और बहुत विश्वाश भी | ये रिश्ता और विशवाश मुझे अपने प्यार से नही मिलने देता था … इस वजह से मैं कुछ समय नही मिल पाई | समय बीतता रहा और हमारा Contact भी खत्म हो गया | उनकी भी शादी हो गयी है | फिर भी हम दोनों दिल से प्यार करते रहें | आज हमारे एक-दुसरे के पास कोई भी Contact नही है | पता नही वो कहाँ और कैसे हैं मैं नही जानती ……. हमारा प्यार एक सपने कि तरह रह गया | मैं जानती हूं कि हम एक-दुसरे को नही भूले हैं लेकिन शादी के रिश्तों ने हमे ना ही मिलने दिया और ना ही बात करने दी |
आज मैं और वो अपनी जिंदगी में खुश हैं | लेकिन कहीं ना कहीं आज भी हम दोनों एक-दुसरे को याद करते हैं | हमारा प्यार एक सपना बनकर रह गया |
हम हमेशा एक-दुसरे को याद रहेंगे……