My First Love – in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो, मैं Nandu Delhi से हूं |मेरे प्यार की एक अजीब सी कहानी है | ये बात 6 साल पहले की है जब मैं बाहरवीं कक्षा में थी और मैंने Institute में Computer Coaching join की थी | वहां एक आजीब सा लड़का था Akash उसने कानों में Ring और हाथों में भी Ring पहने हुए थे और दिखने में बदमाश लगता था मुझे उससे बात करना भी पसंद नही था पर 6 महीने की Coaching खत्म करके मैं वहीं जॉब करने लगी | फिर तो हर दिन वो मुझे दिखने लगा | हर दिन मिलकर थोड़ा-थोड़ा बात करने लगे | धीरे धीरे करके ये मुलाकातें Friendship में बदल गयी धीरे-धीरे मैं और वो एक दुसरे पे Interest लगे लेकिन हम चुप थे क्योंकि मैं सिख थी हमारी शादी का कोई Chance नही था | लेकिन साथ में खाना पीना, रहना पता ही चला कि कब प्यार हो गया | जब वो नही होता था तो कोई भी काम करने को दिल नही करता था | फिर भी हमने इजहार नही किया बस समय का इंतजार ही किया | लेकिन उसने Purpose नही किया ऐसा देखते-देखते +2 खत्म हो गयी | मैं वहां से दूर आगे पढ़ने को चली गयी | मैंने उसको बोल दिया कि मैं जा रही हूं वो मुझे जाने के दिन भी बस स्टैंड छोड़ने को आया था मैं चली गयी और बस पे बैठकर मैं बहुत रोयी |6 महीने के बाद मैं फिर वापस आई | फिर मेरा Foreign का Visa लग गया था तो इसलिए मैं अपने घर वालों को मिलने गयी थी मैं उसको छोड़ भी नही सकती थी | मैं बीच-बीच में छिपकर भी रोटी थी | फिर भी मुझे उसने Purpose नही किया| 2 साल बाद मैं छुट्टियो में घर गयी और Institute में टीचर से मिलने गयी | उसने वहां आना छोड़ दिया था | मैं उदास होकर वापस आ गयी| 7 दिन बाद किसी काम के लिए उसी जगह पे गयी मुझे 1 लड़का मिला उसने बोला Akash यहां आया था | उसने आपको फ़ोन पर बात करने के लिए बोला था मैं बहुत excited हुई | तभी मैंने उसको फ़ोन किया और उससे मिली फिर से पहली तरह दोस्ती बढ़ गयी | मैं 1 महीने कि छुटी पर थी तो हर दिन आपस में मिलकर बात होती थी | 1 दिन मुझे उसने पूछा कि शादी कब है मैंने बोला किसी शादी तो मैंने बोला हमारी तो मैं हैरान हो गयी और चुप रही तो उसने बोला मुझे पता था कि ऐसे ही होगा इसलिए मैं कुछ नही बोलता था तो मैंने कोई जवाब नही दिया तो वो बोला कि मूझसे प्यार करती हो हम एक दुसरे के गले मिले और उसने मेरी गाल पर Kiss की और हमने सोचा कि हम Foreign जाकर शादी करवाएंगे तो मैंने भी उसको Foreign लेकर जाने को सोच लिया था मैंने उसके लिए वहां जॉब ढूढने लगी और कुछ महीनों तक कोई जॉब नही मिली | उसने बोला कि शायद तू मुझे बुलाना नही चाहती | लेकिन मैं उसकी लिए जॉब नही ढूंढ पायी वो मुझे Ignore करने लगा और मैं भी उसको Ignore करने लगी मैंने सोचा कि उसने मुझे इधर आने को Purpose किया होगा | तो मैं उसे फ़ोन करना बंद कर दिया उसने मुझे Massage किये लेकिन मैंने कुछ Reply नही किया | बाद में फिर छुट्टियों में उसने फ़ोन किया और Video Chat हुई करीब आधा घंटा बात हुई जब मैंने उसे देखा तो मुझे फिर से प्यार होने लगा | उसके बिना घर नही जा सकती थी | फिर हम उनके घर गये उसने सब पूछना शुरू किया मैंने सब जवाब दिए | उसके बिना एक मिनट भी जीना मुश्किल था | फिर मेरी छुट्टियां खत्म हो गयी वो मुझे छोड़ने आया मैं बहुत रोयी वो बोला कि मत उदास हो मैं खुद तेरे पास आऊंगा | मैं March 2012 को वापस आई और अपने काम पे वापस आ गयी उसनी Internet लगवाया और Daily Video Chat होती थी October को वो Foreign आया और उसे अच्छा काम भी मिल गया हम लोगों ने शादी कर लिया और एक साथ रहने लगे हमने शादी करवाकर बाद में घर वालो को बताया फिर उनको Accept करना पड़ा हम दोनों खुश हैं हर Weekend घुमने जाते हैं हम दोनों एक दुसरे को बहुत प्यार करते है|मुझे मेरा पहला प्यार मिल गया | I am very Happy……