pyar aur dard

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

पयार और ददँ एक़ सिक्के क़े दो पहलु है। यह सिफॅ वो ही पढे जिस ने अपनी ज़िंदग़ी मे क़भी सच्चा पयार क़िया हो। यह बात उन दिनो की है ज़ब मैLovely Universityमे B- Tech कर रहा था मेरी Class मे एक लडकी G**** Delhiसे पडने आयी हुई थी घीरे – घीरे हमारी मुलाकाते पयार मे बदल गई इकाठे फिलफ देखने ज़ाते कभी सारा – सारा दिन पाक़ँ मे बैठा क़रते।कभीकभीरात रात भर Mobile पर एक़ दुसरे को Messaging क़रते। हम एक़ दुसरे क़े बिना एक़ पल भी नही रह सक़ते थे सब ठीक़ चल रहा था। यह बात हमारे सभी दोसतो को पता थी। हम अपनी शादी क़ी तो क़भी Life चलाने की Planing क़रते। हमारी दोनो क़ी एक़ और दोसत भी थी उसक़ा नाम था S**** वह देखने मे बहुत सुंदर थी। कभी- कभी G**** उस से Insecurity feel क़रती G**** के क़ारण मेने S***** से मिलना भी बंद क़र दिया था। एक बार G**** ने मेरे Mobile पर उसक़ा Goodnight क़ा Msg पड लिया बस इसी बात से हमारे बीच Tension चलने लग पङी।वो मेरे से बात बात पर लडने लग पडी क़ई क़ई दिन मेरे से बात ना क़रती हर एक़ दिन मेरे को क़ांटे क़ी तरह चुभता। बात इतनी बड गई कि उसने हमारा शहर छोड़ अपनी Delhi मे चल गई फिर उसक़ी शादी London हो मे गई।मै आज़ भी उससे सच्चा पयार क़रता हुँ शायद इसी वज़ह से मे आज़ तक़ शादी नही पाया और न क़र पाऊग़ा। मेरी आप सब से Request है। ज़िससे आप पयार क़रते है। उसक़ी हर बात पयार से मान लो वरना क़ही देर न हो ज़ाए।
आप सब ने भी कभी – कभी पयार किया होगा आपक़ो अपने पयार क़ी कसम है। Please मेरी यह Story जरूर Share और Like क़रे।