Pyar se Nafrat Love story – in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो, जब मैंने College में Admission लिया तभी वहां पर मुझे Subash मिला जो कि 12th तक मेरे साथ में पढ़ा था | वो मुझे पसंद करता था और मुखे बोल नही पता था कि वो मुझे प्यार करता है और मैं भी उससे ज्यादा दोस्ती नही रखती थी | कुछ दिन बीते और पेपर होने वाले थे और मेरी दोस्ती सबसे बढ़ गयी हम सब बहुत Enjoy करते थे | एक दिन हम सब पार्क में बैठे थे और मेरी दोस्त ने उसके साथ मेरी Friendship करवा दी | उसने मुझे Hello बोला और मैं भी उसे Helloबोली और दोनों ने आपस में बातें कि और फिर मैं घर चली गयी और जब मैं अगली सुबह College आई तो तो मैंने उसे College में सबसे बात करते हुए देखा और फिर मैं वहां से Classroom में चली गयी उससे कोई और लड़की भी प्यार करती थी उसने मुझे बोला कि मैं उससे प्यार करती हूं मैं उससे उसका Number लिया और उससे बात की | उसने मुझे सब कुछ बता दिया लेकिन Subash नही माना फिर उसने बातों-बातों में बोला कि मैं तुझे बहुत चाहता हूं | ये सुनकर मैं फ़ोन काट दिया और फिर मैं सुबह College गयी तो उसने मुझे पूछा कि क्या हुआ | मैंने कुछ नही बोला | मैंने उसे बोला कि मैं तो तुम्हे प्यार नही करती और वहां से आ गयी | एक दिन मुझे पता चला कि उसके पापा ने उसे घर से बाहर निकाल दिया और वो अपने दोस्त के घर रहता है | मैं उसे College में मिली और उससे पूछा | उसने बोला कि मैं घर नही जाता और मैं उसे ऐसे नही देख सकती थी |मैं उसके बारे में बहुत सोचने लगी थी | क्योंकि मैं उससे प्यार करती थी | उसने मुझे प्यार के बारे में हाँ बोलने को कहा और मेरे दोल में भी उसके लिए प्यार आ गया था और मैंने उसे I Love You बोल दिया | उसे बहुत ख़ुशी हुई और हम दोनों साथ रहने लगे | मैं उसके बिना नही रह सकती थी | जब हम नही मिलते तो दिल नही लगता था |
हम दोनों ने शादी करनी चाही और इसे जानकर उसकी दोस्त जो उससे प्यार करती थी वो और दोनों मिलकर हमारे बीच दुरी बढ़ाने लगे | वो मुझे ठीक से बात भी नही करता था | मैं उसके लिए बहुत रोटी थी फिर उसने फ़ोन करना भी बंद कर दिया था | पेपर शुरू हो गये | फिर पेपर खत्म होने के बाद उसका फ़ोन आया कि तुम कहाँ पे हो मैंने बोला कि मैं अभी Collage से निकल गयी हूं उसने मुझसे मिलने को बोला और उसने बोला कि बाहर वाली काटींन पे आओ | जब मैं वहां गयी उसने मुझे प्यार से देखा और बोला कि पेपर ठीक से हो गये… | फिर उसने बोला कि तुम घर जाओ | उसे बहुत देर बाद देखने के बाद मैं घर आकर बहुत रोई क्योंकि मैंने उसे बहुत देर बाद देखा था | उसके बाद उसने मुझे कभी फ़ोन नही किया |
मैंने उसे बहुत फ़ोन किया लेकिन उसने कभी जवाब नही दिया | मैं गांव चली गयी और वहां जाकर भी फ़ोन किया और एक दिन उसने फ़ोन किया और बोला वापस कब आयोगे | मैंने उसे बोला कि पता नही और उसने बोला कि जल्दी आना |
मैंने हाँ बोला और फ़ोन बंद कर दिया | मैं उसे बहुत प्यार करती थी और जब मैं वापिस आई तो उससे मिलने की बहुत कोशिश की लेकिन वो मुझे कभी नही मिला | मैं उसके घर पर भी गयी और वो घर में नही था | उसकी Mummy ने मुझसे बात की और बोला कि वो फेल हो गया है तो अब वो काम पर जाता है | मैं अपने दोस्त के साथ उसे मिलने गयी | वो मेरे लिए सब कुछ करता था | जब भी मैं उसे बुलाती वो मिलने आता |
फिर मैंने B.SC में Admission लिया और पढ़ाई करने लगी | 3 साल बीत गये और अब मैंने पढ़ाई पूरी कर ली और मेरी जिन्दगी में एक दिन ऐसा आया जब मुझे देखने वाले आए और और मुझे पसंद कर गये और मेरे पिता जी ने मेरी शादी पक्की कर दी | मुझे गांव जाना पड़ा और मेरी शादी हो गयी लेकिन मेरा पति बहुत अच्छा है | मुझको बहुत प्यार करता है | अब मेरे लिए वो ही सब कुछ है …….