Pyar Swarag ki Tarah Hai True Love Story – in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello दोस्तो मैं आपको अपने प्यार के बारे में बताती हूं | मेरा पहला और आखिरी प्यार मेरे बाबू है | मैं उन्हें प्यार से बाबू बुलाती हूं तो वो मुझे लाडी | हम एक-दुसरे को हमेशा इसी नाम से ही बुलाते है | मैं उन्हें पहले नही जानती थी | मैं एक School में पढ़ती थी और मैं इस Job से संतुष्ट नही थी | मैंने किसी को मेरी कहीं और Job लगवाने को कहा था और उसने मेरी मदद भी की | उसने मुझे एक नंबर भी दिया और कहा कि इस Number पे बात कर शायद बात बन जाते | मैंने फ़ोन किया तो उन्होंने फ़ोन उठाया और उन्होंने कहा Hello तो मैंने Hi में Reply दिया | फिर उन्होंने कहा कैसे हो तो मैंने कहा कि ठीक हूं आप बताओ | हमारी बहुत बातें हुई और फिर आखिर में उन्होंने कहा कि आप Interview देने आ जाना | मैंने कहा ठीक है Thank u और फ़ोन रख दिया | कुछ दिनों बाद फ़ोन आया उन्होंने कहा कि आप कल Interview देने आ जाना | मैंने पूछा कि कहाँ आना है | मुझे कुछ पता नही है क्योंकि मैं ज्यादा बाहर नही निकलती | मेरे घर वाले बहुत Strict हैं | मैं अगले दिन गयी और वो मुझे रास्ते पर ही मिल गये | दोस्तो मैं पहली बार किसी लड़के के पीछे बैठी थी | मुझे डर भी लग रहा था कि कहीं किसी अनजान के साथ कहीं कोई देख ना ले | आखिर Office आ गया और मेरा Interview हो गया और मैं Select हो गयी | वो दिन मेरे लिए बहुत अच्छा था क्योंकि मुझे नई Job मिल गयी थी | फिर हम अपने घर आ गये | बहुत दिन बीत गये लेकिन अभी Office Join के लिए कोई फ़ोन नही आया था | मैंने उन्हें फ़ोन करके कब Office आने के लिए पूछा तो उन्होंने कहा कि अभी कुछ दिन बाद आना है | फिर हमने एक दुसरे को Msg करना शुरू कर दिया | हमारा दिन शुरू होता तो Msg से रात होती थी | तो Msg से बात करते-करते हम बहुत अच्छे दोस्त बन गये | फिर मैंने Office Join किया और मेरा Office का पहला दिन बहुत अच्छा निकला | वहां सभी लोग बहुत अच्छे थे | लेकिन वो तो बहुत ही अच्छे थे | वो मुझे मन ही मन पसंद करने लगे | लेकिन मुझे ऐसा कुछ भी नही पता था मैं तो उनसे Normally बात करती थी | फिर उन्होंने कहा कि एक लड़की है मैं उसे Like करता हूं | ल्लिके मुझे नही पता कि वो मुझे करती है या नही | मैंने कहा कि कृपा मुझे बताओ कि वो कौन है | तो वो कहते कि मैं आपको बताऊंगा पहले ये तो पता चले कि वो भी मुझे Like करती है या नही | मैंने कहा फिर आप उनसे पूछो और वो कहते कि मुझे डर लगता है कि अगर मैंने बताया तो वो मुझसे दोस्ती भी ना तोड़ दे तो मैंने कहा कि ऐसा थोड़ी ना होगा आप बात तो करो…. दोस्तो ये बात कुछ दिनों तक चलती रही | मुझे अंदाज़ा भी नही था कि वो मेरे बारे में बात करते है | तो मैं खुद उनसे पूछती थी कि कौन है वो लड़की…. वो मुझसे Normally बात करते थे | जैसे हम पहले करते थे | फिर जब उनका जन्मदिन था तब उन्होंने मुझे Purpose किया | मैंने उनको Birthday Wish नही किया क्योंकि मैं भुल गयी थी कि उन्होंने मुझे जब हम रात को बात कर रहें थे तब उन्होंने कहा था कि मैं आपको बताउं कि वो लड़की कौन है जिसे मैं Like करता हूं और बहुत प्यार करता हूं मैंने बोला हाँ बताओ | तब मैंने कहा कि वो लड़की और कोई नही बलकी आप ही हो और मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं | जबसे आपको देखा है तबसे मैं कह नही पाया | लेकिन मैंने उन्हें मना कर दिया तो उनका जैसे दिल टूट गया हो | मैंने बोला कि हम दोस्तों की तरह रह सकते है | वो कहते कि मैं आपको अपना सब कुछ मान चूका हूं और आपके बिना नही रह सकता | फिर मुझे उनके लिए कुछ Feel होने लगा | जैसे कि मैं उन्हें पसंद करने लगी थी | लेकिन मैं ये नही जानती थी कि यही प्यार है | 4 दिन तक हमने एक-दुसरे से बात नही की | वो तो मुझे अपने दिल की बात कह चुके थे लेकिन मैं Confuse थी कि मैं उनसे प्यार करती भी हूं या नही | लेकिन ये 4 दिन का एहसास मेरे लिए कुछ नया सा था दोस्तो वो मुझे रोज़ परमात्मा से मांगते थे | उन्हें विशवास था कि मैं उन्हें जरुर मिलूंगी | तबी मैंने रात को फ़ोन किया और कहा कि मैं भी आपको Like करने लगी हूं | वो ये सुनकर इतने खुश हुए कि मानो जैसे उन्हें सब कुछ मिल गया हो और कुछ पाने की चाह ही ना हो और मैं भी उस दिन बहुत खुश थी | हम दोनों एक-दुसरे के लिए जिंदगी बन गये | अब हम एक-दुसरे के बिना नही रह सकते |हम एक-दुसरे से बहुत प्यार करते हैं | प्यार एक वो एहसास है जब मिले तो और कुछ पाने की चाह ही नही रहती | दोस्तो प्यार की शुरुआत एक दोस्त से होती है और आगे जाकर वो दोस्ती से भी बढ़ जाती है | मेरी और उनकी दोस्ती प्यार में ही बदली |
I Love Very Much……..