Saccha and Pehla Pyar – in Hindi

Please share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on StumbleUponDigg this

Hello Friends, मेरा नाम Nitish है | मैं 20 साल का हूँ | मेरी कहानी आज से 3 साल पहले शुरू हुयी थी | वो मेरा पहला और सच्चा प्यार था लेकिन ये मेरा एक तरफ़ा प्यार था | जब मैं 9th में था तो मेरी Class में एक लड़की थी | जिसका नाम Hina था | वो बहुत अच्छी थी | उसका Nature बहुत अच्छा था | मुझे अभी भी पता है कि मैं पहली बार उसके बार में बहुत बुरा सोचा करता था | कुछ दिन बीत गये और फिर एक दिन उसने मुझे अपने पास बुलाया | उसने मुझसे बात की | उस समय उसको पढ़ाई के Related कुछ काम था तो मैंने उसकी मदद की | मैं उस समय अपनी Class में पढने में बहुत हुशिआर था | तब से हमारे बीच बात होनी शुरू हुई | फिर धीरे-धीरे मैं उसे पसंद करने लगा | करीब 2 साल तक ऐसे ही चलता रहा | हमारी दोस्ती बहुत अच्छी हो गयी | उसने मेरी साथ अपनी बातें Share की | मैंने अभी तक उसे अपनी Feelings के बारे में नही बताया था और ना ही मैं बताना चाहता था क्योंकि मुझे उसके खोने का डर था

एक दिन हमारे बीच बहुत बातें हुई | उसने मुझे अपने Boy-friend के बारे में भी बताया था | तब मैं उसकी बात को Seriously नही लिया | फिर मेरे एक दोस्त ने उसे मेरे बारे में बताया | उसने मुझे बोला कि वो तुझे प्यार करती है लेकिन मुझे यकीं नही हुआ कि उसने ऐसा बोला होगा | उसने बोला था मगर मेरे दोस्त ने मुझे एक बात नही बताई कि वो तुझे बहुत प्यार करती है | वो मुझे प्यार करती थी मगर कुछ दिन पहली ही उसने किसी और को Accept कर लिया | क्योंकि वो उडीक नही करना चाहती थी | उसने 3 साल तक मेरी उडीक की थी | कि मैं उसे Purpose क्योंकि लेकिन मैंने उसे Purpose नही किया | फिर मैं उसे कहा कि मैं उसे Accept नही कर सकती | लेकिन उसने फिर भी मुझे यह नही बोला कि मैं तुम्हे प्यार नही करती | But उसने मुझे कहा कि लेकिन कोई Question किया तो हमारी दोस्ती खत्म हो जायेगी | फिर मैं चुप हो गया |

कुछ दिन बाद मैंने उससे Massage पर बात की | वो मुझे Ignore कर रही थी | फिर मैं अपने दोस्तों के कहने पर उसे पहली बार Purpose किया | मैंने उसे एक बड़ा सा Message लिखा | फिर मैं देखा कि अभी तक उसका कोई Reply नही आया था | फिर सुबह बाद में मैंने देखा कि मुझे Disturb मत करो | मेरे Boy-friend को ये सब पसंद नही है | कि मैं आपसे बात करूं |

दोस्तो ये थी मेरी एक-तरफ़ा कहानी | लेकिन मैं आज भी खुश हूँ कि वो खुश है | दोस्तो मैं उसे हर दिन सच्चे दिल से याद करता हूँ |