The Heart Touchable Love Story

मैं Vijay मेरी ये कहानी School Time की है | जब School में मेरा Admission हुआ तो मेरा कोई दोस्त नही था | तब थोड़े दिनों के बाद मेरा एक दोस्त बना जिसका नाम था Rahul | हमारी दोस्ती कमल की थी हम एक दुसरे के घर जब मन करता आ जाते थे लेकिन जब 6th Class में पहुंचे तब मुझे एक लड़की से प्यार हो गया था जिसका नाम था Priya | एक दिन मैं Rahul को बताने जा रहा था कि उसने मुझे कहा Vijay यार तुझसे मुझे एक बात करनी है मैं चुप हो गया मैं बोला बोल ना क्या हुआ | उसने कहा मुझे एक लड़की से प्यार हो गया है मैंने बोला अच्छा कौन है भाई वो लड़की….. उसने कहा Priya मैं चुप हो गया क्योंकि ये लड़की वही थी जिसे मैं प्यार करता था वो बोला क्यों क्या हुआ मैं बोला कुछ नही | मैं बोला बोल दे भाई उसको | लेकिन वो बहुत डरता था | धीरे-धीरे हम 9th में आ गए वो उसे बोल ही नही पा रहा था |

एक दिन Priya मेरे पास आई और मुझको बोलती है I Love You Vijay | मैं वहां से चला गया और Lunch Time हुआ ही था कि Priya मेरे पास आई और बोली क्या तुम मुझसे प्यार नही करते हो तो फिर मैंने Rahul के बारे में सारी बात बताई तो वो गुस्से में वहां से गयी और Rahul से पुछा क्या तुम मुझसे प्यार करते हो तो Rahul ने कहा हां | तो Priya ने कहा मैं Vijay से प्यार करती हूं और वो भी मुझसे करता है तो Rahul वहां से Class आया और 5-6 दिन School नही आया मैं उसके घर गया तो उसने कहा तू Priya को प्यार करता है ना मैंने कहा हट मैं कहाँ उसको प्यार करता हूं तो वो बोला मेरी कसम खा मैं बोला हां लेकिन तू उसको पहले से पसंद करता है | वो जानता था कि जब तक वो नही बोलेगा तब तक मैं Priya को Reply नही करूंगा तो Rahul अगले दिन School आया और बोला Priya तू मेरे पास आ और मुझे भी बुलाया उसने सब clear कर दिया मैं और Priya दोनों अच्छे से बातें करने लगे |

फिर गर्मियों की छुट्टियों का Time आया हमारे पास किसी का Contact no. नही रखा था और फिर जब गर्मियों की छुट्टियों का अंत हुआ तो पहले दिन ही मैं और Priya Class में आए तो मैं Priya को देखकर मुस्करा ही रहा था कि पीछे से मेरा एक दोस्त आया उसका नाम Rajan था उसने बोला अबे Vijay मैं उसकी तरफ देखा हां Rajan अबे Vijay Rahul ने फांसी लगा ली है मैंने बोला कब बोला कल ही | जब मैं उसके घर गया तो उसके चाचा ने मेरे को एक Note Book दिया मैंने बोला ये क्या है चाचा तो वो बोले तेरी ही Note Book है | मैं बोला अच्छा और फिर जब मैं घर आया तो Rahul ने एक Note Book लिखी थी Sorry Vijay मैं भी Priya से प्यार करता था मैं ओर कुछ नही कर सकता था | तो मैंने Priya से बात करना बंद कर दिया उससे हर दम दूर रहता था करीब मैंने 2 साल उससे बात नही की फिर जब हम 11th में थे तो गर्मियों की छुट्टियों से पहले हम 12th Class वालों को Firewall दी उस दिन मेरी Class वालों ने मुझे anchor बनाया था जब Party खत्म हो गयी तो सब 12th वाले रो रहें थे मुझे अच्छा नही लगा और मैं Class में चला गया तो अचानक Priya आई और मुझे Hug करके रोने लगी फिर मैंने सोचा शायद मेरी ही गलती है मैंने भी उसे Hug कर लिया |
पता नही यार मैंने Vijay के साथ गलत किया या सही….