Please Vaapas aa Jao, Baby love story in Hindi

Hello दोस्तो कैसे हो? दोस्तो एक दिन मैं Theater में Movie देखने गया | मैंने 2 टिकटें ली और अपने दोस्त का इंतज़ार करने लगा | 15 मिनट बाद Movie शुरू होने वाली थी
| फिर मेरे दोस्त का फ़ोन आया कि मैं नही आ सकता तो मैं उसकी टिकट को वहीं Drop करने वाला था तो इतनी देर में मैंने देखा कि 2 लड़कियां भी वहीं Movie देखने वाली थी लेकिन Houseful था और Last Ticket Counter वाले पे था फिर उसमें एक ने कहा चलो अगले Show पे आएंगे | फिर मैं वहां गया और मैंने बोला Hello आगर आप चाहो तो एक Ticket मुझसे ले लो क्यौकी मेरा दोस्त नही आ रहा लेकिन उसने ना बोला फिर दूसरी वाली ने बोला कि ले लो फिर दुबारा तुम्हरी मम्मी नही आने देगी | उसने बोला ठीक है और मुझे उसने Rs. दे दिए और मैंने बोला के ठीक है वैसे भी मैं इसको यहीं फेंकने वाला था | फिर वो बोली कि अगर पैसे नही लिए तो मैं भी Ticket नही लुंगी मैं कहा कि ठीक है दे दो | हमें आखिरी Ticket मिली तो हमें एक ही जगह मिल गयी | उसने मुझे Thank You बोला और Smile की | वो दोनों बचपन की दोस्त थी | वो दोनों एक ही Area में पास-पास रहती थी और वो Area मेरे घर से थोड़ी ही दूर 2-3 मिनट था | मैंने अपने घर 4-5 साल बाद आया था इसलिए मुझे पता नही था | पहले मैं अपने भाई के साथ Jaipur रहता था | वहीं पढ़ाई करता था | वो दोनों लड़कियां में से एक का नाम Priya था और एक का नाम Deepika था और मेरे नाम Mohit है | Movie देखने के बाद उन्होंने फिर से Thank You बोला और इस बार मैंने Smile की | 3-4 हफ्ते बाद मैं रात को अपने दोस्त के साथ वहीं उनके Area में खड़ा था | वो वहीं रहता था और वो दोनों भी वहां रहती थी | तब मुझे नही पता था कि ये दोनों भी यहां रहती हैं | Deepika वहां अपने घर की छत पर खड़ी थी | उसने Hi कहा लेकिन मैंने उसे नही पहचाना क्योंकि बहुत अँधेरा था और फिर वो नीचे मेरे पास आई | मैंने देखा कि वो तो Deepika थी | मैंने Hello बोला और कहा कि तुम यहां क्या कर रही हो और वहीं Question उसने मेरे से पूछा |
हम दोनों हसने लगे और उसने बोला कि मैं यहीं रहती हूं | मैंने भी बोला कि मैं भी यहां पास में ही रहता हूं | मेरा दोस्त Harry वहीं खड़ा था | वो उसे जानता था व्| फिर 5 मिनट बात की और फिर मैं उसका Number भी ले लिया और फिर हमने Whatsapp पर बात की | फिर हर दिन हम Whatsapp पर बात करते थे | एक दिन Deepika ने बात नही की | फिर मैंने उसे बोला I Miss You तुम कहाँ थी | उसने बोला Ohhhhh….| तब पहली बार मेरे दिल में Deepika के लिए Feelings आई | कुछ दिन बाद मैंने रात को उसे Purpose किया और Wait करने लगा और Wait करते-करते सो गया फिर बाद में मैंने अपना फ़ोन देखा तो उसका Reply आया हुआ था I Love you to और मैं बहुत खुश हुआ | Deepika की एक आदत मुझे बहुत अच्छी लगती थी कि वो मुझे बार-बार कहती रहती थी कि मेरी Chicks पे Hug करो और मैं Hug करता रहता था | वो मेरी जिन्दगी का एक Best Movement था | वो बहुत अच्छी थी और जब वो मुझसे गुस्सा होकर रोने लगती थी तो मैं भी रोने लगता था और वो एक डीएम चुप हो जाती थी | मैं शाम को उसके Area में जाता था | जो ख़ुशी उसे देखने में मिलती थी वो कभी किसी चीज में नही मिली थी | फिर एक दिन मैं और Harry वहां खड़े थे तो मैंने कहा कि मैं Priya को प्यार करता हूं तो तू Priya से बोल दे तो वो बोला कि हाँ भाई समय आने दे उसी दिन बोल दूंगा तो एक दिन मैं बाज़ार जा रहा था तो मैंने देखा कि Priya किसी लड़के के साथ जा रही थी | फिर मैंने Harry को बता दिया तो उसने कुछ दिनों में उसका पता लगाकर उसको अपने दोस्तों से पिटवा दिया | जिस दिन Harry ने उस लड़के को पीटा उसी दिन रात में उसने मुझे अपने Area में बुलाया और उसनी शराब पी रखी थी और रो रहा था और मुझे बोला कि भाई अपना फ़ोन दे तेरे Whatsapp से Priya को Purpose करूंगा | भाई दे दे ना तेरे पास Number है ऐसा करते-करते उसने मेरे से Number ले लिया | उसने मेरे Whatsapp से Priya को I Love you लिखकर भेज दिया | ये भी लिख दिया कि तेरे Boy Friend को मैं आज तेरे लिए बहुत मारा | फिर मैं जाकर सो गया | सुबह मैंने देखा कि Priya ने और Deepika ने भी मुझे Block कर दिया था | Harry ने अपना नाम नही लिखा था वो नशे में अपना नाम लिखना भुल गया था फिर मैंने Deepika को बताने के लिए फ़ोन किया लेकिन उसने नही उठाया | उसे लग रहा था कि Priya के Boy Friend को मैंने मारा है और Priya को भी मैंने ही Purpose किया है | फिर सुबह मैं Deepika के Institute के बाहर गया और उससे बात की और वो रोने लगी और मैंने बोला कि Harry से पुछ ले तो उसने बोला कि आपका दोस्त है | तुम जो उसे बोलने को बोलोगे वो तो वही बोलेगा और Deepika ने कहा कि तुम मुझे Priya के बारे में पुछ रहें थे ना तो ये सब करने के लिए पुछ रहें थे ना तो दुबारा मुझे अपनी शक्ल दिखाई तो तुमहरा मुंह तोड़ दूंगी | तब मुझे पता चला कि मैं कितना बुरा फसा हुआ था और मैं Deepika के घर के बाहर आंसूं लिए खड़ा रहता और Harry ने भी उसे समझाया लेकिन वो नही समझती थी | मैंने Deepika को बोला कि मेरे पे थोड़ा सा विश्वाश तो करो लेकिन नही | मैं Harry के साथ मिलकर रोज़ शराब पीता था और रोता था | वो विश्वाश नही करती और खुद भी टूट-टूट कर रोटी है और मुझे भी रुलाती है | मेरी समझ में नही आ रहा कि मैं क्या करूं…
[contact-form][contact-field label=”Name” type=”name” required=”true” /][contact-field label=”Email” type=”email” required=”true” /][contact-field label=”Website” type=”url” /][contact-field label=”Message” type=”textarea” /][/contact-form]\